जब विदेशी बहू को देश में लेकर आई थीं सुषमा स्वराज तो जानिए क्या कहा था

समैन के युवक टीनू जांगड़ा ने 2016 फेसबुक पर प्यार के बाद कजाकिस्तान की युवती झाना के साथ शादी की थी। बाद में झाना अपने ससुराल भी आ गई। लेकिन उसके बाद वीजा अवधि न बढ़ने के कारण वह वापस चली गई। इस दौरान टीनू ने तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्वीट किया कि विदेशी बहू अपने देश में आना चाहती है। लेकिन वीजा अवधि न होने के कारण परेशानी आ रही है। 
loading...
जिसके बाद सुषमा स्वराज ने संज्ञान लिया और विदेशी बहू को उसके ससुराल वापस लेकर आई। हालांकि बाद में रिश्ते में दरार आने के कारण अब यह विदेशी बहू अपने देश में है। लेकिन उस समय टीनू व झाना ने सुषमा स्वराज से मिलकर उनका धन्यवाद भी किया था और सुर्खियां बटोरी थी। यह घटना लोगों को आज भी याद है। लेकिन जिस महिला के प्रयास से झाना अपने ससुराल आई थी आज वो हमारे बीच नहीं है।

फेसबुक पर हुई थी दोनों की दोस्ती और फिर हो गई शादी
फतेहाबाद के टोहाना खंड के गांव समैन के टीनू जांगड़ा और कजाकिस्तान की झाना के बीच फेसबुक पर दोस्ती हुई। दोनों में प्यार हो गया। झाना अपना देश छोड़कर समैन आ गई। दोनों ने 4 जून 2016 को हिदू रीति-रिवाज से गांव समैन में शादी कर ली। झाना 1 दिसंबर 2016 तक यहां रही और उसके बाद अपने देश लौट गई। झाना के पास तीन महीने का ही वीजा था, इसलिए उसे वापस लौटना पडा था। इससे पहले झाना की वीजा अवधि न बढ़ने पर उस समय विदेशमंत्री रही सुषमा स्वराज ने स्वयं ट्वीट कर टीनू व झाना को दिल्ली बुलाया और झाना की वीजा अवधि बढ़ाने की प्रक्रिया शुरू कराई थी।

सुषमा स्वराज से मिले थे दोनों ही पति-पत्नी
झाना जब वापस भारत लौटी तो विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से भी मुलाकात की। उसका पति टीनू जांगड़ा भी उसके साथ था। दिल्ली में विदेश मंत्री से मुलाकात कर उन्होंने खुलकर बातें कीं। कुछ परेशानियां बताई तो कुछ संस्कृति से जुड़े अनुभवों पर चर्चा हुई। इस दौरान विदेशमंत्री ने भी उन्हें हर प्रकार की सहायता का आश्वासन भी दिया। समैन वासी टीनू ने बताया कि उन्हें विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की तरफ से ही मिलने का निमंत्रण मिला था। दोनों ने सुषमा स्वराज का धन्यवाद किया था।

पति के साथ तकरार की की शिकायत भी सुषमा से की थी
भारत लौटने के बाद झाना का पति टीनू से किसी बात को लेकर विवाद हो गया। 2018 में झाना ने सुषमा स्वराज को पत्र लिया। उसने शिकायत में बताया कि वर्ष 2016 में पति टीनू व उसके परिवार ने उससे उसकी मां द्वारा दिए गए पैसे छीनने के लिए जान से मारने की कोशिश की। टीनू के माता-पिता ने उसे कमरे में बंद कर दिया और पिटाई भी की। इस मामले की शिकायत भी की लेकिन बाद में वह भारत छोड़कर अपने देश वापस चली गई।