मां और बेटी का एक ही व्यक्ति से था संबंध, मां के कहने पर बेटी ने बाप को मार डाला, शव को दफना भी दिया

मां और बेटी का एक ही व्यक्ति से अवैध संबंध चल रहा था। एक माह पूर्व ही महिला और उसके प्रेमी को पति ने संदिग्ध अवस्था में देख लिया। उसके बाद पति और पत्नी में झगड़ा होने लगा। शुक्रवार की रात जब घर के सभी सदस्य सोए हुए थे तभी मां, बेटी और आशिक तीनों ने मिलकर घर के मुखिया की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी और शव को आंगन में ही दफना दिया। जहां पर शव को दफनाया, उस जगह को ईंट रखकर ढक भी दिया। यह वारदात भागलपुर जिले के सन्हौला थाना के बड़ी रमासी गांव का ही है।
loading...
सोमवार को जब बड़ा बेटा घर पर आया तो इस दिल दहला देने वाली घटना का खुलासा हो गया। पुलिस ने मां और बेटी को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि दोनों के प्रेमी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी भी कर रही है। ग्रामीणों ने बताया कि कैलू दास (35 वर्ष) अपनी पत्नी सरिता देवी, बेटी जूली व छोटा बेटा देवनंदन के साथ छोटा सा होटल व किराने की दुकान चलाता था। 
कैलू का सबसे बड़ा बेटा दयानंद बांका जिले के रजौन में रहकर खलासी का ही काम करता है। होटल चलाने के दौरान सरिता देवी व बेटी जूली से कई लोगों का मिलना-जुलना होने लगा था। इसी दौरान पलवा गांव का युवक दिनेश यादव होटल व उसके घर पर आने-जाने लगा। तीनों के संबंध को लेकर कैलू और उसकी पत्नी के बीच अक्सर झगड़ा होता था। सोमवार को ही कैलू का बड़ा बेटा दयानंद कुमार जब घर पहुंचा तो पिता को वहां पर नहीं देखा। उसने मां और बहन से इस संबंध में पूछताछ की तो दोनों ने कोई संतोषजनक जवाब ही नहीं दिया। 
इसके बाद उसने ग्रामीणों से भी पूछताछ की। मगर कुछ पता ही नहीं चला। वह थाने में पिता की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए पहुंच गया। जब सरिता देवी व बेटी जूली को इसकी सूचना मिली तो वह दोनों भी थाने पहुंच गई। तीनों थाने में गुमशुदगी का मामला दर्ज करा रहे थे, इसी बीच ग्रामीणों ने पुलिस को फोन कर बताया कि कैलू के घर के आंगन से दुर्गंध आ रही है। उसके बाद थानाध्यक्ष ब्रजेश कुमार पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और आंगन में खुदाई कर शव को बाहर निकलवाया।

थाने से लौट रही मां-बेटी को ग्रामीणों ने रास्ते में पीट दिया
ग्रामीणों ने घटनास्थल से कुछ दूरी पर ही थाने से लौट रही मां-बेटी को पकड़कर जमकर पीटा और फिर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस दोनों को गिरफ्तार कर थाने ले गई। पूछताछ में दोनों ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। थानाध्यक्ष ने बताया कि वारदात में शामिल दिनेश यादव का अवैध संबंध मां और बेटी से था। तीनों ने मिलकर प्लानिंग के तहत कैलू यादव की हत्या कर दी। पुलिस दिनेश यादव की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।