तीन मासूमों की मौत के बाद अपने जिंदगी की जंग हार गई मां, जानें कैसे एक घटना ने उजाड़ दिया पूरा परिवार

कोतवाली के अंतर्गत नागल ज्वालापुर ग्राम सभा में घटित सनसनीखेज वारदात में तीन मासूमों की मौत के बाद रविवार को एक और दुखद घटना से गांव में और भी शोक का माहौल हो गया है। रविवार की सुबह हिमालयन हॉस्पिटल में भर्ती रीना देवी की इलाज के दौरान मौत हो गई। हत्याकांड में घायल आरोपी राम सिंह की पत्नी रीना देवी का 30 जुलाई से इलाज चल रहा था। अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही रीना देवी आखिरकार मौत के आगे अपनी जंग हार गई है। विनय, मुस्कान के बाद भूमिका की मौत 2 दिन पूर्व हुई थी। 
loading...
डोईवाला कोतवाली के अंतर्गत नागल ज्वालापुर ग्राम सभा में 30 जुलाई को सनसनीखेज वारदात सामने आई थी। राम सिंह उर्फ मान सिंह ने तीन बच्चों व पत्नी पर प्राणघातक हमला कर दिया था। इस हमले में पुत्र विनय व पुत्री मुस्कान की दर्दनाक मौत हो गई थी। गंभीर घायल पुत्री भूमिका व उसकी माता रीना देवी को उपचार के लिए हिमालयन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पुलिस ने बताया कि शुक्रवार (दो अगस्‍त) सुबह पांच बजे भूमिका ने दम तोड़ दिया, जबकि उसकी मां रीना की रविवार सुबह उपचार के दौरान मौत हो गई।

लोगों ने किया था अंतिम संस्कार 
भूमिका की मौत से गांव में शोक की लहर दौड़ गई। पोस्टमार्टम के बाद शुक्रवार दोपहर भूमिका का अंतिम संस्कार कर दिया गया। स्थानीय निवासी शोभित उनियाल ने बताया कि नागल ज्वालापुर बड़ोंवाला स्थित सुसुवा नदी श्मशान घाट में शाम 4:30 बजे मासूम भूमिका के परिवार के लोगों व स्थानीय ग्रामीणों की उपस्थिति में अंतिम संस्कार किया गया।