कुटिया के नीचे आलीशान कमरा बनाकर ये बाबा करता था ऐसा काम, पूजा पाठ का नाटक कर ग्रामिणों से करता था छलावा

स्थानीय व हरियाणा पुलिस ने सोमवार दुलरासर गांव में दो लाख रुपये के इनामी बदमाश को गिरफ्तार किया है। शातिर बदमाश पिछले 8-10वर्ष से दुलरासर गांव के बाहर रूपलीसर जाने वाली सडक़ मार्ग पर कुटिया बनाकर बाबा के वेश में रहता था तथा मां दुर्गा की पूजा अर्चना के बहाने डोरा जंतर का कार्य कर ग्रामीणों को  बनाता था। मंदिर में पूजा पाठ का नाटक करता था। जिसके वजह दुखी ग्रामीण उसके पास आते थे। डोरा जंतर के बहाने ग्रामीणों से ठगी करता था। जिसका खुलासा सोमवार को हरियाणा व सरदारशहर पुलिस ने किया तो गांव के लोग हके बक्के रह गए।

जमीदोज कमरे में करता था...
loading...
शातिर बदमाश ने जमीन खरीद कर उसमें सामान्य घासफुस की कुटिया बनाई। ताकि लोग किसी प्रकार का शक नहीं कर सके। पाखंडी बाबा ने इस घासफुस की कुटिया के भीतर जमीदोज अलीशान कमरा बना रखा था। शोचालय सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध थी। पुलिस ने कुटिया के भीतर तलाश ली तो जमीन के अन्दर जाने का रास्ता दिखाई दिया। पुलिस रास्ते की मदद से नीचे उतरी तो पहले शोचालय नजर आया। आगे चले तो आलीशान कमरा बना हुआ था। नीचे जाने वाले रास्ते के उपर बिस्तर रखता था। ताकि किसी को मालूम नहीं चले।

नहीं थी किसी को कुटिया में जाने की इजाजत

ग्रामीणों ने बताया कि पाखंडी बाबा ने गांव के लोगों में इस प्रकार यकीन बना लिया था कि गांव का हर आदमी हर विवाह शादी एवं अन्य सामाजिक कार्यक्रमों में बुलाने लगे। पाखंडी बाबा भी प्रत्येक कार्यक्रम में शरीक होकर अपनी तरफ से बान व कन्या दान देता था। ताकि लोगों में भरोसा बना रहे। कुटिया में हर किसी को भीतर जाने की इजाजत नहीं थी। आलीशान कमरे का रास्ता कुटिया में बने ईंटो के बेड से होकर जाता था। जिस पर बिस्तर होने के वजह किसी को आजतक भनक तक नहीं लगी।

पुलिस पर की फायरिंग

हरियाणा पुलिस को पता चला कि शातिर बदमाश विनोद कुमार बाबा के वेश में दुलरासर रहता है। हरियाणा पुलिस सरदारशहर पुलिस के साथ दुलरासर गांव पहुंची। कुटिया के बारह एक शख्स पिस्तोल ताने खड़ा था तथा पुलिस को भीतर आने पर फायरिंग करने की चेतावनी दी। पुलिस ने बहुत समझाइस की। इस दौरान भागने का कोशशि करते हुए आरोपियों की ओर से फायरिंग की गई। पुलिस ने भी जबाबी कार्रवाई करते हुए शातिर बदमाश को दबोच लिया गया। शातिर बदमाश विनोद कुमार को गिरफ्तार कर पुलिस भिवानी ले गई।