"बहुत परेशान करती थी वो", तो प्रेमी ने कर दिया ये काम, जानें क्या है पूरा मामला

यूपी की राजधानी लखनऊ के गाजीपुर थाना क्षेत्र में एक छात्र ने अपने पिता की लाइसेंसी राइफल से गोली मारकर आत्महत्या कर लिया। गोली चलने की आवाज से कैंप में हड़कंप मच गया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे गंभीर हालत में ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया, जहां डॉक्‍टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस प्रभारी निरीक्षक गाजीपुर ने बताया कि मृतक के पिता ने एक युवती पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। उनकी तहरीर के आधार पर युवती के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

जानिए क्या है पूरा घटनाक्रम
loading...
मिली जानकारी के अनुसार, घटना गाजीपुर थाना क्षेत्र की है। द्वारिकापुरी निवासी झल्लर सिंह ने बताया कि उनके पुत्र अभिषेक सिंह (19) ने सोमवार दोपहर करीब 12 बजे उनकी लाइसेंसी राइफलसे अपने कमरे में गोली मारकर आत्महत्या कर कर ली। घटना के समय घर पर कोई नहीं था, अभिषेक ने कमरा बंद करके खुद को गोली मारी थी। गोली की आवाज इतनी तेज थी कि आसपास के लोग भी दहशत में आ गए। वहीं, जब तक परिजन घर पहुंचे तब तक अभिषेक दम तोड़ चुका था। आनन-फानन में घरवाले बेटे को अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्‍टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पिता का आरोप है कि उनके बेटे को उसकी प्रेमिका काफी परेशान करती थी, जिसकी वजह से अभिषेक ने आत्महत्या कर ली। पुलिस ने आरोपों के आधार पर मिली तहरीर के आधार पर प्रेमिका के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

बेड पर ही पड़ा हुआ था शव
एसएचओ के मुताबिक, अभिषेक किसी बात को लेकर परेशान था। इंदिरा नगर सेक्टर 11 में रहने वाली लड़की उसे बात करने को लेकर ब्लैकमेल कर रही थी। पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है। प्रभारी निरीक्षक गाजीपुर ने बताया कि मृतक आईटीआई का छात्र था। मृतक के पिता सीएमएस गोमतीनगर में कार्यरत हैं। उन्होंने कुछ दिन पहले बेटे अभिषेक का एडमिशन एसएमएस कॉलेज में डिप्लोमा के लिए आईटीआई के लिए कराया था। जिस वक्त घटना हुई उस समय मृतक का भाई आशुतोष सिंह घर पर ही मौजूद था। पुलिस प्रेमिका की तलाश कर रही है।