दोस्त बोला-"भगवान के पास चले जाओ", तभी उसने उठा लिया ये कदम, अब कॉल रिकॉर्डिंग से खुला है राज

कानपुर के डीएवी गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में आगरा की एक छात्रा के फांसी लगाने के मामले में चौंकाने वाले खुलासा हुआ है। आत्महत्या से पहले ही छात्रा के एक दोस्त ने उसे उकसाया था। उसके पिता ने मंगलवार को छात्रा के दोस्त पर आत्महत्या के लिए उकसाने की धारा में रिपोर्ट दर्ज कराई है।  साक्ष्य के तौर पर सौंपी गई कॉल रिकॉर्डिंग से खुलासा हुआ कि आखिरी कॉल में आरोपित दोस्त छात्रा से बोला था कि 'जाओ मर जाओ'। इसके चंद सेकेंड बाद ही छात्रा फंदे से झूल गई थी। 
loading...
अभी फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने व्हाट्सएप चैट समेत पूरी कॉल रिकॉर्डिंग को कब्जे में लिया है। आगरा के बाह थाना क्षेत्र स्थित टीचर्स कॉलोनी निवासी राजेश शर्मा की बड़ी बेटी दिशा शर्मा (19) डीएवी से बीकॉम द्वितीय वर्ष की पढ़ाई कर रही थी। वह डीएवी हॉस्टल के कमरा नंबर 117 में अपनी छोटी बहन आकृति के साथ रहती थी। 

27 जुलाई की रात को हुई थी ये घटना
27 जुलाई की रात को दिशा ने हॉस्टल के बाथरूम में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। उसके बाद दूसरे दिन ही  उसके परिवारीजन पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव लेकर वहाँ से चले गए थे। मंगलवार को राजेश कोतवाली थाने पहुंचे और गाजीपुर निवासी कार्तिकेय के खिलाफ तहरीर दे मुकदमा दर्ज कराया। 
कार्तिकेय लखनऊ स्थित गुरु गोविंद सिंह स्पोर्ट्स कॉलेज में हॉस्टल में रहकर वॉलीबॉल खेलता है। राजेश का आरोप है कि दिशा को वह मानसिक रूप से प्रताड़ित करता था, तभी उसने खुदकुशी कर ली। इंस्पेक्टर आशीष कुमार शुक्ला ने बताया कि मोबाइल नंबर की सीडीआर के आधार पर आरोपी के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। जल्द उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। आरोपी की मृतका से आगरा में कुछ समय पहले मुलाकात हुई थी।