पति ने छोड़ा दिया, अब बेसहारा पत्नी को मजबूरन 2 बच्चों को बेचना पड़ गया

बिहार के नालंदा जिले में गरीबी का दर्दनाक चेहरा सामने आया है. यहां पर एक गरीब महिला अपने इलाज के लिए अपनी दो बच्चों को बेचना चाहती थी जबकि उसका पति उसे छोड़कर भाग गया है. महिला को अभी नालंदा के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अभी तक उसे किसी सरकारी मदद मुहैया कराए जाने की कोई रिपोर्ट सामने नहीं आई है.
loading...
नालंदा के एक अस्पताल में ट्यूबरक्लोसिस से जूझ रही एक महिला अपने दो बच्चों को बेचने की कोशिश कर रही थी. इस मामले की जानकारी मिलने के बाद उस महिला को एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है जो अपने दो मासूम बच्चों को बेचना चाहती थी. गरीबी से बेहाल बीमार महिला का कहना है कि उसे अभी तक किसी से कोई मदद नहीं मिली है. 
बीमार महिला ने कहा, 'मुझे कहीं से कोई मदद नहीं मिली है. मुझे नहीं पता मैं कब मर जाऊं. इसलिए अपने बच्चों को उन लोगों को दे देना चाहती थी जो मुझे पैसे दे सकें.' वहीं अस्पताल के मैनेजर ने बताया कि महिला बहुत गरीब है और उसका पति उसे छोड़कर भाग गया है.
समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक जिस अस्पताल में महिला भर्ती है, उस अस्पताल के मैनेजर सुरजीत कुमार ने बताया कि जैसे ही मुझे इसकी जानकारी मिली मैंने महिला को अस्पताल में भर्ती कराया. उसके बच्चे भी कुपोषण के शिकार हैं और उनका भी इलाज चल रहा है. मां के साथ उसकी बेटियों को भी अस्पताल में भर्ती कराया गया है और तीनों का इलाज चल रहा है. अस्पताल के मैनेजर सुरजीत कुमार ने बताया कि महिला बहुत ही गरीब है और उसका पति उसे छोड़कर भाग गया है.