प्रेमिका के दोनों हाथ पैर नहीं हैं लेकिन प्रेमी करता है बेइंतहा प्यार, जानें इनके बारे में

उतर जाते हैं दिल में कुछ लोग इस कदर, उनको निकालो तो जान निकल जाती है। इस प्यार भरी शायरी को तो आपने पहले भी सुना होगा लेकिन आज हम आपको इस प्यार की एक ऐसी मिसाल के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे।
loading...
पंजाब के मोहाली की रहने वाली लक्ष्मी और विनोद की प्रेमकथा भी सचमुच अनोखी है। लक्ष्मी के हाथ और पैर दोनों ही नहीं है। जन्म से ही लक्ष्मी एक दुर्लभ बीमारी का शिकार थीं जो लाखों में किसी एक को होती है। 
विनोद और लक्ष्मी ने डेढ़ साल तक चली मुलाकातों के बाद एक दुसरे से शादी कर ली थी। लक्ष्मी की माँ ने उम्मीद ही छोड़ दी थी कि उनकी बेटी का कभी विवाह हो पाएगा लेकिन लक्ष्मी को विनोद के रूप में उसका जीवनसाथी मिल ही गया। 
विनोद का एक पैर पूरी तरह से काम नहीं करता और वे बैसाखी के सहारे चलते हैं। सामाजिक संस्था चलाने वाले अशोक कुमार ने दोनों परिवार के सदस्यों को राजी किया।  आज दोनों की शादी को 3 साल बीत चुके हैं और दोनों अपने वैवाहिक जीवन से काफी खुश हैं। 
यह अनोखा प्यार उन लोगों के लिए एक सीख है जो केवल शारीरिक सुन्दरता और चेहरे के आकर्षण को ही प्रेम समझ लेते हैं। शारीरिक प्रेम अस्थाई होता है, जो समय के साथ साथ समाप्त हो जाता है। विनोद और लक्ष्मी का प्रेम आत्मिक है जो जन्मो तक अमर रहेगा।