न्यूयॉर्क से नौकरी छोड़कर आई इस सांसद का पहला ही भाषण हुआ वायरल

लोकसभा में टीएमसी की सांसद महुआ मोइत्रा का पहला ही भाषण इंटरनेट और सोशल मीडिया पर सुर्खियां बंटोर रहा है. पश्चिम बंगाल के कृष्णानगर से सांसद महुआ ने अपने पूर्व भाषण में जिस तरह से सरकार पर निशाना साधा और फासीवाद को लेकर अपना भाषण दिया उसकीप्रत्येक तरफ चर्चा हो रही है. किन्तु महुआ 10 वर्ष पहले तक बहुराष्ट्रीय कंपनी जेपी मॉर्गन में बड़े पद पर कार्यरत थीं और अचानक राजनीति में उनकी प्रवेश हो गई.
वर्ष 2008 में बैंकर की नौकरी छोड़ने के बाद महुआ मोइत्रा ने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन की और राहुल गांधी के मिशन 'आम आदमी का सिपाही' से लग गईं. बाद में उन्होंने यूथ कांग्रेस में भी कुछ दिन कार्य किया. किन्तु बंगाल में कांग्रेस की स्थिति को देखते हुए उन्होंने कांग्रेस छोड़ ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी का दामन थाम लिया. पहली बार 2016 में वह करीमपुर विधानसभा से टीएमसी विधायक चुनी गईं.
विधायक से करियर की शुरुआत करने के बाद महुआ इस चुनाव में सांसद बनकर दिल्ली की राजनीति में दाखिल हो गईं. महुआ का शुरुआती जिंदगी असम और कोलकाता में बीता किन्तु 15 वर्ष की उम्र में वह अपने परिवार के साथ अमेरिका शिफ्ट हो गईं. इसके बाद अर्थशास्त्र की पढ़ाई की और न्यूयॉर्क में बैंकर की नौकरी शुरू कर दी. जबकि बाद में उन्होंने राजनीति में आने का मन बनाया और नौकरी छोड़ वापस भारत आ गईं.
लोकसभा में धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान महुआ ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने बताया कि आज संविधान खतरे में हैं, आप इस बात को मानने से मना कर सकते हैं और कह सकते हैं कि अच्छे दिन आ गए हैं. किन्तु अगर आंखें खोल कर देखेंगे तो खतरे के संकेतों को पहचान लेंगे. महुआ ने अपने भाषण में फासीवाद के संकेतों की ओर संकेत करते हुए केंद्र सरकार पर हमला बोला.
टीएमसी सांसद ने अपने संबोधन में रामधारी सिंह दिनकर, शायर राहत इंदौरी और स्वतंत्रता सेनानी मौलाना आजाद का बात करते हुए उनकी पक्तियों को सदन में दोहराया. राहत इंदौरी के शेर का जिक्र करते हुए महुआ ने बताया कि किसी के बाप का हिन्दुस्तान थोड़ी है.
महुआ ने अपने पहले भाषण में बीजेपी को जीत की बधाई तो दी किन्तु बाद में कहा कि यह चुनाव मुद्दों पर नहीं बल्कि वॉट्सऐप और फेक न्यूज के जरिए लड़ा गया था. उन्होंने मॉब लिंचिंग से लेकर नागरिकता संशोधन बिल, बेरोजगारी का जिक्र अपने भाषण में किया, साथ ही बताया कि देश में आज डर फैलाया जा रहा है.
टीएमसी सांसद ने बताया कि देश में हेट क्राइम की घटनाएं बढ़ी हैं. पहलू खान से लेकर झारखंड में तबरेज की हत्या से साफ है कि दिनदहाड़े लोगों की मॉब लिंचिंग की जा रही है. उन्होंने कहा कि आज सेना की उपलब्धियों का श्रेय केवल एक आदमी को दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि देश में आतंकी घटनाएं बढ़ी हैं और हमारे जवानों की शहादत भी पहले से अधिक हुई है. उन्होंने कहा कि पूरा देश 2.77 एकड़ की राम जन्मभूमि को लेकर चिंतित है किन्तु हमें पूरे देश की 80 करोड़ एकड़ जमीन की चिंता करनी चाहिए.