जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन की अवधि छह महीने बढ़ी

केन्द्र सरकार ने जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन की अवधि छह महीने के लिये बढ़ा दी है। लोकसभा में गृहमंत्री अमित शाह ने प्रस्ताव पेश किया जिसमें उन्होंने अगले छह महीने के लिए राज्य में राष्ट्रपति शासन बढ़ाने क पैरवी की। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में विधानसभा भंग है और चुनाव आयोग का निर्णय है कि इस वर्ष के आख़िरी तक जम्मू कश्मीर में चुनाव करवाए जाएंगे तो ऐसे में प्रेसिडेंट रूल को बढ़ाना ही मुनासिब होगा।
भाजपा और पीडीपी की सरकार टूटने के बाद पिछले वर्ष जम्मू कश्मीर में गवर्नर रूल लगा दिया गया था जिसके बाद जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया गया। शाह ने गृहमंत्री बनने के बाद लोकसभा में यह पहला प्रस्ताव पेश किया और सभी सदस्यों से इसे स्वीकार करने की आग्रह भी की।